Slogans In Hindi On Save Water

पानी बचाओ देश बचाओ: 10+Ways To Save Water In Hindi Language

Learn to Save Water In Hindi Language. अपने रासायनिक नामकरण में H2O के रूप में जाना जाने वाला पानी, एक पतला जलीय घोल है।

तरल अवस्था में, इसका अस्तित्व जीवन के रखरखाव और सभी जीवित जीवों के लिए आवश्यक है। पानी को जानना सबसे अच्छा है कि इसमें से सबसे अच्छा कैसे निकाला जाए। पानी 3 रूपों में मौजूद है: तरल, ठोस या गैस। हालांकि यह अपने तरल रूप में है कि यह सबसे अधिक बार परिभाषित किया गया है क्योंकि यह पृथ्वी पर पानी का सबसे सामान्य रूप है।

Learn Save Water In Hindi Language

जल जीवन का आधार है। जल न हो तो हमारे जीवन का आधार ही समाप्त हो जाए। दैनिक जीवन के कई कार्य बिना जल के सम्भव नहीं हैं। लेकिन धीरे-धीरे धरती पर जल की कमी होती रही है। साथ ही जो भी जल उपलब्ध है वह भी काफी हद तक प्रदूषित है।

poster Save Water In Hindi Language

जिसका इस्तेमाल खाने-पीने और फसलों में कर लोग गंभीर बीमारियों से परेशान हैं। धरती पर जीवन बचाये रखने के लिए हमें इसके बचाव की ओर ध्यान देना होगा। हमें जल को व्यर्थ उपयोग नहीं करना चाहिए और उसे प्रदूषित होने से भी बचाना चाहिए।

Read more Save Water In Hindi Language

Water Conservation In Hindi Language

जल ही जीवन है। यह पंक्ति कोई अतिशयोक्ति नहीं है। जल के बिना जीवन संभव ही नहीं है। हमारे जीवन की सभी कार्यों के लिए जल बहुत ही महत्वपूर्ण है। कई कार्य जल के बिना हो ही नहीं सकते। यह जानता है कि व्यक्ति इसे पूरी करने में सक्षम नहीं है।

Save Water In Hindi Language

पूरी दुनिया में जल का स्तर धीरे-धीरे घटता जा रहा है और नदियाँ सूखती जा रही हैं। इसके कई दुष्परिणाम मनुष्य भुगत रहे हैं। यही सब देखते हुए प्रकृति की इस धरोहर का बचाने के लिए, धरती पर जीवन कायम रखने के लिए कई देश जल संरक्षण पर काम भी कर रहे हैं।

जीवन जीने के लिए जल और वह भी स्वच्छ जल बहुत ही आवश्यक है। इसके लिए हमें जल का दुरुपयोग नहीं करना चाहिए। कहावत है कि “बूंद-बूंद से घड़ा भरता है”। बारिश कम हो जाती है अगर हमें कुछ काम की न लगे पर जब बहुत सी गेमिंगदे इकट्ठी होती हैं तो उसका प्रयोग आसानी से होता है।

poster on save water in Hindi for class 6

अतः हमें एक-एक पानी की बूँद को बचाना चाहिए। जितनी आवश्यकता हो उतना ही पानी लेना चाहिए और पेड़-पौधों को लगाना चाहिए।
यदि बच्चों में बचपन से ही ऐसी आदत डाली जाये तो वे भी आगे जाकर इसे आने वाली पीढ़ी को समझायेंगे और जल संरक्षण कर धरती को खुशहाल ग्रह बनाने में अपना महत्वपूर्ण सहयोग देंगे।

Read more Tips On Save Water In Hindi Language

Tips On Save Water In Hindi Language

पृथ्वी का तीन-चौथाई भाग जल से घिरा हुआ है। लेकिन इतना जल होते हुए भी उसमें से बहुत कम प्रतिशत प्रयोग करने लायक होता है। इस तीन-चौथाई जल का 97 प्रतिशत जल प्रतिरूप है जो मनुष्य द्वारा प्रयोग करने लायक नहीं है। सिर्फ 3 प्रतिशत जल उपयोग में लाने लायक है। इस 3 प्रतिशत में से 2 प्रतिशत तो धरती पर बर्फ और ग्लेशियर के रूप में है और बाकी का बचा हुआ एक प्रतिशत ही पीने लायक है। धीरे-धीरे यह 3 प्रतिशत भी कम होता जा रहा है। यह कम होते जल स्तर का प्रभाव पर्यावरण पर भी पढ़ा जा रहा है।

Save Water In Hindi Language

प्रकृति यह सब आपके अपने नहीं कर रही है। इसका पूर्ण रूप से जिम्मेदार मनुष्य ही है। अपने आंशिक लाभ के लिए मनुष्य इस अनमोल सम्पदा को नष्ट और दूषित कर रहा है। यदि ऐसा ही हो तो मनुष्य अपने जरूरी कामों के लिए भी पानी को तरस जाएगा।

हमें यह मालूम है कि दुनिया में कई देश ऐसे हैं जो सूखे पड़े हैं यानी जहां वर्षा होती ही नहीं या जहां नदियों का अभाव है और ऐसे स्थान पानी के लिए तरसते हैं। लोगों को कई मील दूर जाकर अपने लिए पानी का इंतजाम करना पड़ता है।

Save Water In Hindi Language

कई स्थानों पर प्रकृति के इस अमूल्य उपहार को खरीद कर प्रयोग किया जाता है। कई लोग तो इसकी कमी के कारण या दूषित जल से होने वाली गंभीर बीमारियों के कारण ही मर जाते हैं। नदियों में पानी की कमी, भूमिगत जल के स्तर में कमी, पेड़-पौधों की घटती संख्या, कृषि उत्पादन में कमी, आदि ये कुछ ऐसे दुष्परिणाम हैं कि यदि आप भविष्य के विषय में सोचें तो कांप जायें। यह सब जानते हुए भी हम पानी को लापरवाही से प्रयोग में लाते हैं यह सोचे बगैर अगर हमने सावधानी नहीं बरती तो यही स्थिति हमारी भी होगी।

Save Water Save Earth In Hindi Language

हालांकि कुछ संस्थायें जल संरक्षण पर कार्य कर रही हैं लेकिन केवल इतना प्रयास ही बहुत नहीं है। यह विश्वव्यापी समस्या है इसलिए पूरे विश्व के लोगों को मिलजुल कर इसमें सहयोग करना होगा क्योंकि यह अमूल्य सम्पदा को सफलतापूर्वक समाप्त किया जाएगा। इसके लिए हमें अपने घर से ही शुरुआत करनी चाहिए। हमें अपने घर में बूंद-बूंद करके बहते पानी को बचाना होगा। फव्वारे या सीधे नल के नीचे बैठ कर स्नान की बजाय बालटी और मग का प्रयोग करें।

Save Water In Hindi Language

घर के बगीचे में पानी देते समय पाईप की बजाय फव्वारे का प्रयोग करें। ज्यादा से ज्यादा पेड़-पौधे लगने के कारण बारिश की कमी न हो। हो सके तो पौधे बरसाती मौसम में ही रोपें जिससे उन्हें पौधे को प्राकृतिक रूप से पानी मिल हो। घर में ऐसे पौधों को लगाने की कोशिश करनी चाहिए जो कम पानी में भी रह सकते हैं। सरकार को कुछ ऐसी नीति बनानी होगी कि औद्योगिक इकाइयों से निकलने वाला पानी नदी-नालों में न मिले।

Save Water In Hindi Language

इसके निस्तारण की कुछ अच्छी व्यवस्था हो जिससे खतरनाक रसायन पीने योग्य पानी में मिलकर उसे दूषित न कर पायें। धरती पर बढ़ती जनसंख्या के दबाव पर भी ठोस कदम उठानेे जा चाहियें। बरसाती जल इकट्ठा करने और प्रयोग करने लायक बनाने की छोटी इकाइयों को बढ़ावा देना चाहिए जिससे बरसाती जल व्यर्थ न हो।
यदि हम इन सब बातों का ध्यान रखेंगे और बच्चों को भी इसकी आदत डालेंगे तो निश्चित रूप से धरती और धरती पर विकसित होने वाली प्रकृति और जीवन शैली का विकास होगा।

Essay On Save water In Hindi Language

आने वाले सालों यानि भविष्य में जल की कमी न पड़े उसके लिए आप पूरी दुनिया में जल संरक्षण के ऊपर चर्चा हो रही है और जल का संरक्षण किया जा रहा है। कहा जाता है की आने वाले समय में पानी की बड़ी समस्या होने वाली है ऐसे में लोग और देश सभी लोग इस पर विचार कर रहे है की पानी कैसे सेव किया जाय ?

Save Water In Hindi Language

पानी की इतनी कमी होने लगी है की आम लोगों को पीने और खाना बनाने के साथ ही रोजमर्रा के कार्यों को पूरा करने के लिये जरूरी पानी लेने के लिए काफी लम्बी लाइन लगानी पड़ रही है तब जाकर उनको पानी मिलता है, अपने देश में कई ऐसे शहर है जिनमे ऐसी इस्थिति देखने को मिलती है उदहारण के रूप में दिल्ली और मुंबई को ही ले लीजिये जहाँ पानी लेने के लिए बहुत लोगों को कई घंटे तक लाइन लगानी होती है तब जाकर पानी मिलता है।

Save Water In Hindi Language

जबकि दूसरी ओर, पर्याप्त जल के क्षेत्रों में अपने दैनिक जरुरतों से ज्यादा पानी लोगों द्वारा बर्बाद कर दिया जा रहा है। सभी को जल के महत्व और भविष्य में जल की कमी से संबंधित समस्याओं को समझना चाहिए ताकि पानी की समस्या आने वाले समय में न हो। हमें जल संरक्षण और बचाने को बढ़ावा देना चाहिये।

Save Water In Hindi Language

पृथ्वी पर जीवन के अस्तित्व को बनाये रखने के लिए जल का संरक्षण और बचाव बहुत जरूरी जरुरी हो गया है, क्योंकि यही एक ऐसा साधन है जिससे जीवन है। अगर जल नहीं तो जीवन नहीं, पूरे ब्रह्माण्ड में एक अपवाद के रुप में धरती पर जीवन चक्र को जारी रखने में पानी ही अपनी सबसे बड़ी भूमिका निभाता है। अगर यही नहीं तो तो सोचो दुनिया कितनी निरश हो जाएगी। पूरे ब्रह्माण्ड में पृथ्वी ही एक ऐसा ग्रह है जहाँ पानी और जीवन दोनों है।

पानी की जरुरत हर किसी को पूरी जिंदगी होती है इसलिए इसको बचाना भी हमारी जिम्मेदारी होती है। संयुक्त राष्ट्र के संचालन के अनुसार, ऐसा पाया गया है कि राजस्थान में लड़कियाँ स्कूल नहीं जाती हैं क्योंकि उन्हें पानी लाने के लिये लंबी दूरी तय करनी पड़ती है जिससे उनका पूरा दिन पानी लेने में ही ख़राब हो जाता है। इसलिये उन्हें किसी और काम के लिये समय नहीं मिलता है।

निष्कर्ष

Save Water In Hindi Language; यह सब पानी की बचत के बारे में है। यह अनुशंसा की जाती है कि आप पानी को बचाने के लिए प्रत्येक चरण का पालन करें। याद रखें, पानी बचाने से हमारे कीमती संसाधन बच सकते हैं और यह हमारी धरती को बचा सकती है।

पानी की बचत के लाभ हैं, जो आपको हमारे दिन-प्रतिदिन के जीवन में पानी बचाने के महत्व को समझने में मदद कर सकते हैं।

ऐसे नारे हैं जिनका उपयोग आप अपने क्षेत्र में पानी बचाने की जागरूकता फैलाने के लिए कर सकते हैं।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *